Bird Flu News: बर्ड फ्लू का कहर, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया में इंसानों में मिला संक्रमण, झारखंड में कई इलाकों में केस मिले

Bird Flu News: भारत के साथ दुनियाभर के कई देशों में बर्ड फ्लू के मामले देखने को मिल रहे हैं। हाल ही में अमेरिका में इंसानों में बर्ड फ्लू का दूसरा मामला देखने को मिला। इसके पहले टेक्सास में एक शख्स में बर्ड फ्लू के लक्ष्ण पाए गए। वहीं ऑस्ट्रेलिया में इंसानों में पहला बर्ड फ्लू का मामला सामने आया, यहां पर एक बच्चा संक्रमित पाया गया।

ऑस्ट्रेलिया के विक्टोरिया में इस बच्चे में मामले की पुष्टि हुई। बताया जा रहा है कि यह बच्चा कुछ समय पहले भारत से लौटा था। भारत में यात्रा के दौरान गंभीर रूप से बीमार हो गया था। इसके डॉक्टर ने जांच की तो बच्चा बर्ड फ्लू से संक्रमित पाया गया।

झारखंड में मारा गया 920 मुर्गियां और बत्तखों को

आपको बता दें कि हाल ही में झारखंड की राजधानी रांची में भी बर्ड फ्लू का एक केस सामने आया था। इसके बाद करीब 920 मुर्गियों और बत्तखों को मारा गया था। इसके साथ उनके 4300 अंडों को खत्म कर दिया गया। वायरस के बारे में पता चलने के बाद सरकार ने अलर्ट जारी कर दिया। वहीं रांची के एक पोल्ट्री फार्म में बतखों को भी मारा गया।

बर्ड फ्लू क्या है (What is bird flu)?

बर्ड फ्लू एक तरह का वायरल इन्फेक्शन है, जिसे एवियन इन्फ्लुएंजा भी कहते हैं। इसका संक्रमण खासतौर पर पक्षियों से पक्षियों में फौलता है। इससे पक्षियों की जान जाने का खतरा रहता है। इसपर अमेरिका के सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल (CDC) का कहना है कि यह जंगली पक्षियों से पालतू पक्षियों में फैलता है। यह वायरस पक्षियों की आंतों या श्वसन तंत्र पर असर करता है और उन्हें बीमार करता है। इससे ज्यादातर मामलों में पक्षियों की मौत हो जाती है।

आ गया कमाल का इलेक्ट्रिक चम्मच, खाना का स्वाद बढ़ाने के साथ होंगे फायदे, कीमत है 10 हजार

किस तरह से फैलता है ये वायरस

बता दें कि यह वायरस भी दूसरे वायरस की तरह फैलता है। सीडीसी (CDC) का कहना है कि यह वायरस संक्रमित पक्षी की लार, नाक से निकलने वाला लिक्विड या मल के जरिए फ़ैल सकता है। अब जब दूसरा पक्षी संपर्क में आता है तो वो भी संक्रमित हो जाता है।

Government Jobs after 12th: 12वीं पास के लिए बढ़िया सरकारी नौकरी ऑप्शन, सैलरी भी अच्छी, ऐसे आवेदन करें

बर्ड फ्लू क्या इंसानों में फैल सकता है?

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) का कहना है कि बर्ड फ्लू या एवियन फ्लू A टाइप का इन्फ्लुएंजा वायरस है, जो जानवरों के साथ इंसानों में भी फैल सकता है। जैसे को इंसान संक्रमित पक्षी के संपर्क में आता है तो उसे भी बर्ड फ्लू से संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है। सीडीसी (CDC) के अनुसार, वैसे अभी बर्ड फ्लू से इंसानों के संक्रमित होने के मामले कम ही आए हैं। वैसे H5N1 को बर्ड फ्लू का सबसे खतरनाक वायरस बताया जाता है। इससे संक्रमित होने पर मौत भी हो जाती है।