Covid-19 Update: कोरोना का नया वेरिएंट कितना संक्रामक, यहां जानें लक्षण से लेकर गंभीरता

Covid-19 Update: पिछले 4 साल फैले कोरोना ने लोगों की हालात ख़राब कर दी थी। इससे लोगों के स्वास्थ्य से लेकर आर्थिक स्थिति पर असर पड़ा था। इसके बाद अब फिर से कोरोना के नए वैरिएंट FLiRT (KP.1 और KP.2) ने एंट्री ली है। भारत, अमेरिका, सिंगापुर सहित दुनिया के कई देशों में कोरोना के इस नए वेरिएंट के मामले देखने को मिल रहे हैं।

वहीं  इंडियन सार्स-सीओवी-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम (INSACOG या इंसाकॉग) ने आंकड़े बताए, जिससे पता चल रहा है कि अबतक इसे 325 मामले सामने आ चुके हैं। अभी कोरोना के इस नए वेरिएंट को लेकर अध्ययन किया जा रहा है। अभी जो अध्ययन किया गया उससे पता चला कि नया वेरिएंट शरीर की इम्यूनिटी को भी मात देकर संक्रमण बढ़ा रहा है।

यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) ने अपना पहला अध्ययन किया, जिसमें नए वेरिएंट के स्पाइक प्रोटीन में कुछ म्यूटेशन को देखा, जो इसकी संक्रामकता को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं। एक्सपर्ट का कहना है कि नए वेरिएंट के मामले ज्यादा बढ़ रहे हैं। इसकी वजह से अंदाजा लगाया जा रहा है कि अब सबसे ज्यादा संक्रमित और तेज फैलने वाला ओमिक्रॉन के वेरिएंट JN.1 को पीछे छोड़ सकता है।

कितना संक्रामक है FLiRT वेरिएंट

एक्सपर्ट के अनुसार, नए वेरिएंट KP.1 और KP.2 हैं, जिसका नाम तकनीकी आधार पर FLiRT रखा गया है। वैसे यह ओमिक्रॉन का ही सब-वैरिएंट है। वैसे अभीतक ओमिक्रॉन वेरिएंट को सबसे संक्रामक माना जाता रहा है और यह इम्यून सिस्टम को आसानी से चकमा देने वाला माना जाता था।

RBSE 10th Result 2024 Latest Updates: जल्द ही आने वाला है राजस्थान बोर्ड के 10वीं का रिजल्ट, इन वेबसाइट पर चेक करें

अब रिपोर्ट के अनुसार, FLiRT के स्पाइक प्रोटीन में होने वाले म्यूटेशन को देखकर इसे संक्रामकता बढ़ाने वाला माना जा रहा है। इस वेरिएंट का सबसे ज्यादा प्रभाव सिंगापुर में देखने को मिल रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार यहां ज्यादातर लोग KP.2 वेरिएंट से संक्रमित हैं। यहां डॉक्टर्स का कहना है कि फिलहला लोगों में हलके लक्षण दिख रहे हैं और मरीज आसानी से ठीक हो रहे हैं। वैसे अभी संक्रमितों के अस्पताल में भर्ती होने या फिर आईसीयू जैसी चीजें नहीं देखी गई हैं।

नए Red Sheen कलर स्कीम में पेश की गई Jawa 42 Bobber, जानिए और क्या बदला!

लक्षणों की बात करें तो इस नए वेरिएंट के लक्षण पहले वाले वेरिएंट के लक्षण से मिलते जुलते हैं। अधिकतर लोगों में बुखार या ठंड लगने, खांसी, सांस की तकलीफ या सांस लेने में कठिनाई, थकान, मांसपेशियों या शरीर में दर्द, सिरदर्द, स्वाद या गंध की कमी जैसे लक्षण देखने को मिल रहे हैं। वैसे ज्यादातर लोगों को वैक्सीन लग चुकी है और ऐसे में कोरोना संक्रमण की वजह से गंभीर रोगों के खतरा कम देखने को मिल रहा है।