Cyber Crime: अपरा​धियों ने ठगी करने का निकाला नया तरीका, हो जाईए सावधान, इस तरह से कर रहे ठगी

Cyber Crime एक विश्वव्यापाी समस्या बन गया है। तमाम प्रयासों एवं कानूनों के बाबजूद भी Cyber Crime रुकने का नाम नहीं ले रहा है। अपराधी नए-नए तरीके से Cyber Crime कर रहे हैं। सरकारों एवं सामाजिक संस्थाओं द्वारा लोगों को जागरुक भी किया जा रहा है लेकिन फिर भी भोले-भाले लोगों को अपराधी आसानी से अपने जाल में फंस जाते हैं। पिछले दिनों तो ऐसे मामले भी सामने आए हैं जहां सरकार में उच्च पदों पर बैठे लोग भी इनके ​शिकार हुए हैं।

भारत में Cyber Crime करने वाले अपरा​धियों ने अपराध करने का एक नया तरीका निकाला है। हालांकि तरीका पुराना ही है। लेकिन अपने जाल में फंसाने की नई तकनीकि का प्रयोग कर रहे हैं। अब Cyber Crime करने वाले अपराधी कैब चालकों को निशाना बना रहे हैं। कैब बुक कराने के नाम पर कहीं चलने की बात करते हैं। फिर अपने नजदीकि या रिश्तेदार के यूपीआई पर पैसे भेजने की बात करते हैं। और फिर बैंक से पैसा गायब हो जाता है।

आज हम आपको ऐसे ही एक कैब चालक की आप बीती बताने जा रहे हैं। हालांकि उसकी चालाकी एवं हो​​​शियारी से ठगी का ​शिकार होने से बच गया। हम बात कर रहे हैं श्यामला​​हिल्स निवासी कैब चालक महेंद्र सिंह की। महेंद्र सिंह पर एक नंबर से कॉल आया और उसने कैब बुक करने के लिए कहा। महेंद्र सिंह ने उसके अनुरोध पर कैब बुक कर ली। जल्दी आने की कहने पर वह निकल गया। वहीं थोडी देर बाद उसके पास फिर से उसी नंबर से फोन आया।

ताजा खबर: सरकारी एजेंसी की बड़ी चेतावनी, आईफोन, आईपैड और मैक यूजर बड़ी मुश्किल में!

फोन करने वाले ने कहा कि उसकी पत्नी आंख का उपचार कराने गई है। पैसे कम पड गए हैं। उसके द्वारा भेजे जाने पर पहुंच नहीं रहे हैं। मैं आपको 2500 रुपए भेज रहा हूं जिसमें से 500 रुपए आप रख लेना और 2000 रुपए उसकी पत्नी के यूपीआई में भेज दो। फिर एक रुपए का मैसेज आया। लेकिन 2000 रुपए का मैसेज बैंक द्वारा नहीं वरन उसके व्य​क्तिगत नंबर हूबहू आया। जब उसने भेजने की बात कही तो महेंद्र सिंह ने बताया कि उसकी चालाकी पकड ली तो उसने फोन काट दिया।

ताजा खबर: लॉन्च के पहले सामने आए Apple iPhone 16 Pro सीरीज के फीचर्स, बड़ा डिस्प्ले होगा और डिजाइन भी अलग