दिल्ली एम्स के डायरेक्टर मरीज बनकर अस्पताल पहुंचे, आगे जो हुआ हैरान कर देगा

एम्स के डायरेक्टर ने ऐसा काम किया, जिसके बाद अस्पताल सकते में आ गया। दरअसल डायरेक्टर डॉ एम श्रीनिवास भेष बलदकर खुद अस्पताल पहुंचे। जब वो यहां पर पहुंचे तो उन्होंने रिश्वत देकर कार्ड बनवाया। जब कार्ड बन गया तो वो अपने असली रूप में आ गए और रिश्वतखोरी में शामिल सुरक्षा गार्ड के खिलाफ सख्त एक्शन लेने का निर्देश दे दिया।

आपको जानकारी के लिए बता दें कि एम्स हो या सफदरजंग या आरएमएल अस्पताल में इलाज को लेकर रिश्वतखोरी को लेकर आए दिन नए मामले सामने आ रहे थे। इसके बाद एम्स के डायरेक्टर ने इसपर पहल की।

बता दें कि एम्स के डायरेक्टर डॉ एम श्रीनिवास पिछले हफ्ते जांच परख करने निकले। वो एक सामान्य ड्रेस में मुंह पर मास्क पर लगाए हुए थे। ऐसे में उन्हें कोई पहचान नहीं पा रहा था। जानकारी के मुताबिक, डायरेक्टर एम्स में  डेंटल बिल्डिंग में गए और वहां पर तैनात सिक्यूरिटी गार्ड से ओपीडी कार्ड बनवाने की बात कही। डायरेक्टर ने ओपीडी के बाहर भीड़ होने की बात कहकर सिक्यूरिटी गार्ड को कार्ड बनवाने के लिए 500 रुपये देनी की बात कही।

सिक्यूरिटी गार्ड ने 500 रुपये में बनाया कार्ड

अस्पताल में तैनात सिक्यूरिटी गार्ड डायरेक्टर को पहचान नहीं पाया था। डायरेक्टर को जैसे ही ओपीडी कार्ड मिला वैसे ही उन्होंने पैसे दिया और अपना मास्क हटा दिया। इसके बाद डायरेक्टर ने सिक्यूरिटी गार्ड इंचार्ज को फोन किया और उसके खिलाफ सख्त एक्शन लेने का आदेश दिया।

वोट डालते समय क्या पर्दानशीन महिलाओं के लिए भारत में हैं अलग नियम, जानिए इस खबर के माध्यम से पूरी जानकारी

जानकारी के मुताबिक, सिक्यूरिटी गार्ड को नौकरी से हटा दिया गया है। डायरेक्टर द्वारा ऐसा कहने पर उनकी खूब तरीफ हो रही है। इसके बाद सारा स्टाफ सकते में आ गया है।

Google सुन सकता है आपकी निजी बातें, अभी फोन में करें ये सेटिंग्स

वैसे इसके पहले भी कई ऐसे मामले सामने आ चुके हैं। दरअसल मनसुख मांडविया स्वास्थ्य मंत्री बनने के बाद सफदरजंग अस्पताल चले गए थे। इस मामले में भी सिक्यूरिटी गार्ड उन्हें आम मरीज समझा था और उन्हें हटने के लिए कहा था। इसके बाद उसने डंडा चला दिया।

वहीं इसी अस्पताल में CBI ने डॉक्टर मनीष को रिश्वतखोरी के आरोप में गिरफ्तार किया था। वहीं अभी हाल ही में RML अस्पताल में CBI ने दो डॉक्टर समेत अन्य स्टाफ को गिरफ्तार किया।