EPFO का यह नियम PF यूजर्स को देगा राहत, अब नौकरी बदलने पर नहीं करनी होगी ये कवायद

नई दिल्ली: नए फाइनेंशियल ईयर के शुरू होते ही कई नियमों में बदलाव हुआ है। जैसे कि पीएफ खाते (PF Account) से जुड़ा एक नियम बना है। कर्मचारी संगठन भविष्य निधि (EPFO) ने 1 अप्रैल से यह नया नियम लागू कर दिया है। इस नए नियम से कर्मचारियों को बड़ा फायदा होने वाला है।

यह नया नियम ‘पीएफ अकाउंट ऑटो ट्रांसफर’ है। मीडिया ख़बरों के अनुसार, इस नए नियम का मतलब यह है कि नौकरी बदलने पर पीएफ अकाउंट (PF Account) को नए अकाउंट में ट्रांसफर नहीं करना पड़ेगा। यानी अगर आप नौकरी बदलते हैं तो आपका खाता खुद ब खुद ट्रांसफर हो जाएगा।

पीएफ अकाउंट का पहले का नियम (PF Account Rule)

पहले जब नौकरी बदलते थे तो  यूएएन में नए पीएफ खाते जुड़ा जाता था। नौकरी बदलने के साथ ऑनलाइन ईपीएफओ की वेबसाइट विजिट करके ईपीएफ खाता (EPF Account) मर्ज करना पड़ता था। पर नए नियम के बाद अपना पीएफ खाता मर्ज या ट्रांसफर नहीं करना पड़ेगा। अब खाता नौकरी बदलने के साथ खुद ब खुद ऑटोमैटिक ट्रांसफर हो जाएगा।

10 अप्रेल को नहीं मिलेगी लाडली बहनों को किस्त, इस दिन आएगा खातों में पैसा, खुद सीएम ने दी जानकारी

बता दें कि ईफीएफ (EPF) खाते (Account) में कर्मचारी को बेसिक सैलरी 12 फीसदी का योगदान होता है। वहीं इतना ही योगदान कंपनी के एम्प्लॉयर यानी नियोक्ता की तरफ से किया जाता है। कर्मचारी के रिटायर होने तक यह पैसा जमा किया जाता है। जब कर्मचारी रिटायर होता है तो उसे एकसाथ ये पैसा दे दिया जाता है। वहीं इसी खाते से कर्मचारी की पेंशन की व्यवस्था की जाती है।

सोशल मीडिया पर प्यार परवान चढ़ा तो 80 साल के बुजुर्ग ने 34 वर्ष की युवती के गले में डाल दी वरमाला, बराती बने वकील और वादकारी

16.02 लाख सदस्य हैं EPFO से जुड़े

आंकड़ों के मुताबिक, ईपीएफओ (EPFO) से जनवरी में 16.02 लाख सदस्य जुड़े थे। यह आंकड़ा श्रम मंत्रालय ने दिया है। वहीं करीब 8.08 लाख नए सदस्यों ने हाल ही में अपना रजिस्ट्रेशन करवाया है। मंत्रालय का कहना है कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के आख्रिरी पेरोल डेटा जनवरी 2024 से पता चलता है कि 16.02 लाख सदस्यों की वृद्धि हुई है।