मध्य प्रदेश में गरीब और अमीर एक समान, गरीब का अपमान करने पर कलेक्टर पर भी होगी कार्रवाई: डॉ. मोहन यादव

पूरे प्रदेश में लोकसभा चुनाव पूरे चरम पर हैं। पहले चरण के नामांकन की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। अभी नामांकन पत्रों की जांच का कार्य चल रहा है। हालांकि प्रत्या​शियाें की ​​स्थिति पूरी तरह से साफ हो चुकी है। भाजपा को हराने के लिए विपक्षी पार्टियां पूरी ताकत से मैदान में हैं। वहीं भारतीय जनता पार्टी भी पूरी ताकत से मैदान में हैं। मोदी की गारंटी के साथ भाजपाई मैदान में कूदे हुए हैं। लाभा​र्थियों से संपर्क कर उन्हें वोट में बदलने के प्रयास कर रहे हैं।

मध्य प्रदेश में भी चुनाव प्रचार गति पकडने लगा है। 2019 के चुनावों में मध्य प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों में से 28 पर भाजपा को जीत मिली थी। लेकिन इस बार मध्य प्रदेश के सीएम डॉ. मोहन यादव ने देश के पीएम नरेंद्र मोदी को पूरी 29 सीटों को जिताने का वायदा किया है। इसके लिए सीएम पूरी तरह से मैदान में डटे हुए हैं। हालात यह है कि सीएम खुद प्रत्या​शियों के नामांकन कार्यक्रम तक में पहुंच रहे हैं।

सीएम डॉ. मोहन यादव द्वारा कार्यकर्ताओं में जोश भरने के साथ ही आम जनता से संवाद किया जा रहा है। इस दोरान खुद की सरकार को संवेदनशील बताने का कार्य किया जा रहा है। अशोकनगर पहुंचे सीएम डॉ. मोहन यादव ने आम जनता को संबो​धित किया। इस दौरान कहा कि उनकी सरकार संवेदनशील है। कहा कि उनकी सरकार में गरीब और अमीर एक समान है। कहा कि उनकी सरकार में कोई भेदभाव नहीं होता है।

ताजा खबर: Kia के बाद इस कंपनी ने महंगी कर दीं अपनी कारें, अगले महीने इतने बढ़ेंगे पैसे

शाजापुर कलेक्टर किशोर कान्याल पर कार्रवाई करने का उदाहरण देते हुए सीएम डॉ. मोहन यादव ने कहा कि एक गरीब चालक से उसकी औकात पूछने वाला उनकी सरकार में कलेक्टर के पद पर नहीं रह सकता है। उन्होंने कहा उनकी सरकार में जहां कुछ गलत होगा उनकी सरकार कडे से कडे कदम उठाने में नहीं चूकेगी। उनकी सरकार पूरी तरह से संवेदनशील है जो हर वर्ग का पूरी तरह से सम्मान करने का कार्य करती है।

ताजा खबर: Jio के ग्राहकों की निकल पड़ी, सिर्फ 40 रुपये रोजाना पाएं तेज इंटरनेट, अनलिमिटेड कॉल्स, फ्री Netflix, Hotstar, Prime का फायदा