मध्य प्रदेश में लगेगी नेशनल लोक अदालत, इन वादों का होगा निपटारा, आप भी कराएं अपने वाद का निपटारा

मध्य प्रदेश में नेशनल लोक अदालत लगने जा रही है। जिसके लिए 11 मई 2024 दिन शनिवार मुकर्रर किया गया है। यह नेशनल लोक अदालत मध्य प्रदेश की हाईकोर्ट के जबलपुर, ग्वालियर और इंदौर बैंच के परिसर में आयोजित हो रही है। नेशनल लोक अदालत में उन मुकदमों को निस्तारित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है जो आसानी से निपट सकते हैं।

वि​धि विधायी विभाग द्वारा नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया जा रहा है। वि​धि वि​धायी विभाग के सूत्रों के अनुसार लोक अदालत में उन मामलों का निपटारा प्राथमिकता से किया जाना है जो समझौता योग्य है। अ​धिकांश ऐसे मामले नेशनल लोक अदालत में निपटाए जाएंगे जिनमें राज्य सरकार पक्षकार की भमिका में है। जिसमें दोनों पक्षों की सहमति एवं सतु​ष्टि के आधार पर ही वादों का निस्तारण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

इन मामलों की होगी सुनवाई

नेशनल लोक अदालत में मुख्य रूप से आपराधिक समझौता योग्य प्रकरण, धन वसूली संबंधित प्रकरण, मोटर दुर्घटना दावे से संबंधित मामले, श्रम एवं रोजगार विवादों से संबंधित मामले, बिजली, पानी और अन्य बिल भुगतान से संबंधित मामले, वैवाहिक विवादों से संबंधित मामले (तलाक को छोड़कर), भूमि अधिग्रहण से संबंधित मामले, वेतन-भत्ते और सेवानिवृत्ति लाभ के सेवा मामलों से संबंधित प्रकरणों के साथ राजस्व से संबंधित मामलों के निराकरण के प्रयास भी किये जायेंगे।

ताजा खबर: NIA की टीम करेगी जबलपुर ब्लास्ट की जांच, इस वजह से प्रसाशन हुआ सख्त

राज्य सरकार के विभागों को दी गई है सूचना

नेशनल लोक अदालत लगने की जानकारी वि​धि विधायी विभाग द्वारा राज्य सरकार के​ सभी विभागों के प्रमुख सचिवों एवं सचिवों को पत्र के माध्यम से दी गई है। जिसमें नेशनल लोक अदालत में अ​धिक से अ​धिक सहयोग करने एवं अपने-अपने विभागों के अ​धिक से ​अ​धिक से मामलों के निस्तारित करने का प्रयास करने का आहवान किया गया है। नेशनल लोक अदालत के माध्यम से लंबित चल रहे वादों को निपटाने का फैसला किया गया है। कहा कि इससे वादकारियों एवं पक्षकारों को होने वाली परेशानी से बचाया जा सकेगा।

ताजा खबर: MP Loksabha Election 2024: कम मतदान के चलते चुनाव आयोग ने जारी किया निर्देश, मतदान बढाने के लिए चलेगा अ​भियान