रवाना होने से लेकर ईवीएम जमा कराने तक की देनी होगी जानकारी, दो घंटे में अपलोड करना होगा मतदान का प्रतिशत

Loksabha Chunav 2024

लोकसभा चुनाव की प्रक्रिया चल रही है। पहले चरण का मतदान 19 अप्रैल को होना है। इसके लिए राजनेतिक दलों ने चुनाव प्रचार तेज कर दिया है। नेताओं के दौरे चल रहे हैं। भाजपा और कांग्रेस के शीर्ष नेता पार्टी प्रत्याशियों के पक्ष में जनसभाएं करने में लगे हैं। वहीं चुनाव आयोग ने भी अपने स्तर से तैयारियां शुरु कर दी हैं। चुनाव आयोग ने इसके लिए कई ऐप एवं पोर्टलों को लांच किया है।

मीडिया और लोगों को मतदान के दिन सही और सटीक जानकारी देने के लिया मतदान एप जारी किया है। जिसमें पीठासीन अधिकारियों को पूरी जानकारी भरनी होगी। जिला निर्वाचन अधिकारी दो दिन पहले एप को पीठासीन अधिकारी के मोबाइल में डाउनलोड कराएंगे। वहीं पीठासीन अधिकारियों को इसके लिए प्रशिक्षित किया जाएगा। उन्हें जानकारी दी जाएगी कि उन्हें पूरी जानकारी किस तरह से भरी जानी है। इसके लिए मतदान से एक दिन पूर्व पीठासीन अ​धिकारी अपने मोबाइल में लॉगइन करेंगे। और पूरी जानकारी उपलब्ध कराएंगे।

मध्य प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों पर चार चरणों में मतदान होना है। पहले चरण के लिए 19 अप्रैल को मतदान होगा। जानकारी देते हुए संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी तरुण राठी ने बताया कि प्रत्येक दो घंटे में मतदान का प्रतिशत बताना आवश्यक है। इसके मतदान प्रतिशत ऐप बनाया गया है। जिसमें मतदान टीम की पूरी जानकारी रहेगी। किसी प्रकार की गडबड की जानकारी भी ऐप पर डालनी होगी।

ताजा खबर: CGHS कार्ड को आयुष्मान भारत कार्ड से लिंक करना होगा जरुरी, नहीं किया तो उठाना पड़ेगा नुकसान

पीठासीन अधिकारियों को पोलिंग पार्टी रवाना होने से लेकर ईवीएम जमा करने तक की पूरी जानकारी भरनी होगी। वहीं प्रत्येक दो घंटे बाद मतदान का प्रतिशत भरना होगा। ऐसा करने का प्रमुख उद्देश्य मतदान को लेकर लोगों को अधिक से अधिक उत्साहित करना है। वहीं मीडिया और लोगों को मतदान की सही और सटीक जानकारी उपलब्ध कराना है।

ताजा खबर: RBI ने 2000 रुपये के नोट को लेकर दी बड़ी जानकारी, आप भी जान लो