राजनीति: 19 को किया पीएम मोदी का सम्मान, 20 को दे दिया पार्टी से सामूहिक इस्तीफा

लोकसभा दमोह के गांव इमलाई के पास 19 अप्रेल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जनसभा थी। जनसभा के दौरान प्रधानमंत्री ने अपने द्वारा कराए गए विकास कार्याें को गिनाने के साथ मोदी की गारंटी होेने की बात कही। ग्रामीणों एवं भाजपाईओं ने भी खूब तालियां बजाईं। लेकिन शनिवार को कुछ ऐसा हुआ कि भाजपाई खेमा मायूस हो गया। इमलाई गांव में मौजूद बूथ संख्या 32, 33, 34 के बूथ अध्यक्षों, उपाध्यक्षों एवं अन्य पदा​​धिकारियों ने गांव में पानी की समस्या एवं आवास योजना का लाभ नहीं मिलने की बात कह सामूहिक इस्तीफा दे दिया।

19 अप्रेल को भी करना चाहते थ विरोध

गांव में व्याप्त पानी की समस्या को लेकर गांव के कुछ लोग देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा में भी विरोध प्रदर्शन करने का मन बना रहे थे। जिसकी भनक पार्टी के पदा​धिकारियों के साथ अ​धिकारियों को लग गई। पार्टी के पदा​​धिकारी एवं अ​धिकारियों ने 19 अप्रेल को तो कार्यकर्ताओं एवं पदा​​धिकारियों एवं ग्रामीणों को समझा लिया। लेकिन समस्या दूर नहीं होने पर ग्रामीणों ने शनिवार को भाजपा के जिला कार्यालय पहुंच किसी के नहीं मिलने पर अपना सामूहिक इस्तीफा दीवाल पर चिपका दिया।

क्या बोले इस्तीफा देने वाले लोग

इस्तीफा देने वाले लोगों का कहना है कि उनके गांव में पानी की विकट समस्या बनी हुई है। गांव में ग्रामीण आवास योजना का लाभ भी लोगों को नहीं मिल सका है। स्थानीय विधायक से लेकर कलेक्टर तक मामले की ​शिकायत करने के साथ ही निस्तारण की गुहार लगा चुके हैं। विधायक जयंत मलैया एवं कलेक्टर नगर पालिका को समस्या के निस्तारण की कह चुके हैं लेकिन कोई फर्क नहीं पडा है। नगर पालिका ​अ​​धिकारियों के खराब रुख के चलते समस्या का समाधान नहीं हो रहा है। बताया कि उन्होंने अपना इस्तीफा जिलाध्यक्ष पीतम ​सिंह लोधी के नाम लिखकर दिया है।

ताजा खबर: चुनाव के दौरान जबलपुर में दो लोगों के खिलाफ FIR दर्ज हुई, वोटिंग का वीडियो सोशल मीडिया पर डालने का आरोप लगा

सामूहिक रुप से इस्तीफा देने वाले भाजपाई

जिन लोगों ने सामूहिक रुप से भारतीय जनता पार्टी से इस्तीफा देने की बात कही है, उनमें प्रमुख रुप से ग्राम पंचायत इमलाई के उप सरपंच और श​क्ति केंद्र संयोजक रमेश श्रीवास्तव, भरत अहिरवार, रविंद्र अहिरवार, अजय पटेल, तरुण पटेल, धर्मेंद्र पटेल, याकूब खान, ​शिवचरण पटेल, सलमान खान, बृजेंद्र पटेल, किशन पटले, अलीमुद्दीन खान, लालमन परस्ते, बाबूलाल पटेल, राजा पटेल, विनोद पटेल, रुस्तम खान समेत अन्य दर्जनों पदा​​धिकारी एवं कार्यकर्ता शामिल है।

ताजा खबर: MP Lok Sabha Election 2024: चुनाव में ड्यूटी कर लौट रहे थे पुलिसकर्मी एवं होमगार्ड, फिर हुआ कुछ ऐसा कि अस्पताल में कराना पडा भर्ती