बिजली चोरी की सूचना दो और पारितोषिक पाओ, बिजली कंपनी ने किया लोगों से आह्वान

electricity theft

मध्य प्रदेश के कई जिलों में विद्युत वितरण का कार्य देख रही मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने लोगों से बिजली चोरी रोकने में सहयोग करने की अपील की है। नाम गुप्त रखने के साथ आरोपी से रिकवरी होने के बाद पारितोषिक भी देने का वायदा किया है। जिसे लेकर कंपनी काफी उत्साहित है। कंपनी का दावा है कि इससे बिजली चोरी रोकने में मदद मिलेगी। चोरी रुकने के बाद अन्य लोगों को निर्बाध बिजली आपूर्ति मिल सकेगी।

2018 से चल रही है योजना

बिजली चोरी पकड़वाओं और इनाम पाओ योजना 2018 से चल रही है। लेकिन कंपनी ने अब इसे जन जन से जोड़ने का आह्वान किया है। कंपनी ने भोपाल, ग्वालियर, नर्मदापुरम, चंबल क्षेत्र के लोगों से विद्युत चोरी को रोकने में सहयोग की है। कंपनी के अधिकारियों का कहना है कि शिकायत को बिजली के क्षेत्रीय कार्यालयों पर लिखित या फिर फोन के माध्यम से दर्ज कराया जा सकता है।

कम्पनी ने पोर्टल भी किया लॉन्च

कंपनी ने इसके लिए एप और पोर्टल लॉन्च किया है। उपाय नामक एप के साथ कंपनी ने portal.mpcz.in पेश किया है। जिस पर शिकायत दर्ज कराई जा सकती है। शिकायत करने वाले का नाम पूरी तरह से गुप्त रखा जाएगा। वहीं शिकायत करने वाले को पारितोषिक के रूप में धनराशि भी देने का वायदा किया गया है। कहा यह विद्युत चोरी को रोकने के लिए किया जा रहा है।

ताजा खबर: रवाना होने से लेकर ईवीएम जमा कराने तक की देनी होगी जानकारी, दो घंटे में अपलोड करना होगा मतदान का प्रतिशत

कंपनी के पास 2022 2023 और 2023 2024 में कुल 55 शिकायतें प्राप्त हुई हैं। जिनमें कंपनी ने लोगों से 20 लाख रुपए की रिकवरी जुर्माने के रुप में की है। शिकायत करने वालों को कुल 2 लाख रुपए का पारितोषिक प्रदान किया गया है। कम्पनी के अनुसार शिकायत करने के बाद आरोपी से होने वाली वसूली का 10 प्रतिशत शिकायतकर्ता को पारितोषिक के रूप में दिया जाता है।

ताजा खबर: CGHS कार्ड को आयुष्मान भारत कार्ड से लिंक करना होगा जरुरी, नहीं किया तो उठाना पड़ेगा नुकसान