Save Mango Tree: एक ऐसा आम का पेड़ जिसको लेकर मध्य प्रदेश की सरकार की भी है चितिंत, कीमत जानकार रह जाएंगे हैरान

फलों में आम को फलों का राजा कहा जाता है। गर्मी के मौसम में आम खाना हर किसी को पंसद हैं। बाजार में आम कई प्रजातियों में उपलब्ध होता है। प्रजाति के हिसाब से इनकी कीमत भी अलग-अलग होती है। कई आम की प्रजातियां तो ऐसी है जिनके पेड़ों के आम विदेशों तक निर्यात किए जाते हैं। वहीं भारत में भी अलग-अलग हिस्सों में अलग-अलग प्रजाति के आम प्रसिद्ध है। आमतौर पर आम के पेड़ पर जनवरी एवं फरवरी में बोर आना शुरु हो जाता है। वहीं आम मार्च के महीने में पककर बाजार में आ जाता है।

यूं तो प्रत्येक प्रजाति के आमों का बाजार में आने का अलग-अलग समय होता है। लेकिन आज हम आपको जो जानकारी देने जा रहे हैं उसे सुनकर आप भी चौंक जाएंगे। आज हम जिस प्रजाति के आम के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं वह वाकई अन्य आम की प्रजातियों से अलग हैं। यह आम 3.5 किलो से 4.5 तक का एक आम होता है। आमतौर पर इसकी कीमत 1000 से 1200 रुपए प्रति किलोग्राम तक होती है।

हम बात कर रहे ​हैं दुर्लभ प्रजाति के आम नूरजहां की। नूरजहां किस्म के आम मध्य प्रदेश के अलीराजपुर जिले के कठ्ठीवाडा क्षेत्र में पाए जाते हैं। वानिकी ​विभाग के अनुसार नूरजहां प्रजाति के आम के पेड क्षेत्र में मात्र दस ही बचे हैं। जिनका संरक्षण करने के लिए बैठक का आयोजन किया गया। बैठक के दौरान आम के पेड़ों की संख्या को बढ़ाने पर जोर दिया गया। इस दौरान कहा दुर्लभ प्रजाति के नूरजहां प्रजाति के आम के पेडों की संख्या को बढ़ाने पर विचार किया गया है।

ताजा खबर: BSE Odisha 10th Result 2024 Updates: ओडिशा बोर्ड 10वीं का रिजल्ट जल्द होगा जारी, इस वेबसाइट पर जाकर करें डाउनलोड

अलीराजपुर कृ​षि विज्ञान केंद्र के प्रमुख डाॅ. आरके यादव ने बताया कि आम के पेडों को बचाने का प्रयास लगातार किया जा रहा है। हारकर नहीं बैठे लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। अगले पांच वर्षों में पेड़ों की संख्या को 200 करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसके लिए टिश्यू पेपर तकनीकि का सहारा लिया जाएगा। आम उत्पादक किसान ने कहा अब आम कम ही निकल रहे हैं। तीन पेडों पर मात्र 20 आम ही हुए हैं।

ताजा खबर: JEE Advanced 2024: जारी हो गए जेईई एडवांस्ड परीक्षा 2024 के एडमिट कार्ड, यहां जाकर डाउनलोड करें