प्रत्याशी ने किया वायदा, अब कार्यकर्ता करेंगे रामलला के दर्शन, जानिए किसने किया था वायदा

मध्य प्रदेश में चारों चरणों में चुनाव संपन्न हो चुके हैं। सभी लोकसभा सीटों पर मतदान हो चुका है। अब परिणाम का इंतजार है। चार जून को लोकसभा चुनाव के नतीजे चुनाव आयोग द्वारा घो​षित किए जाएंगे। इस दौरान मध्य प्रदेश के लोग हार जीत का आंकलन करने में लगे हैं। वहीं प्रत्या​शियों द्वारा किए गए वायदे को लेकर भी चर्चाएं हो रही है। ऐसा ही एक वायदा बुरहानपुर से चुनाव लडने वाले प्रत्याशी ने कार्यकर्ताओं को रामलला के दर्शन कराने का वायदा किया था। प्रत्याशी द्वारा वायदा पूरा करने की बात की जा रही है।

भारतीय जनता पार्टी ने बुरहानपुर लोकसभा से ज्ञानेश्वर पाटिल को प्रत्याशी बनाया था। ज्ञानेश्वर पाटिल ने कार्यकर्ताओं से वायदा किया था कि जिन बूथों पर 85 प्रतिशत से अ​धिक मतदान होगा उस बूथ के कार्यकर्ताओं को वह अयोध्या में रामलला के दर्शन कराने लेकर जाएंगे। वहीं उन्होंने कार्यकर्ताओं से एक ओर वायदा किया था कि जिन बूथों पर कांग्रेस के वोट शून्य होंगे उस बूथ के कार्यकर्ताओं को वह पीएम मोदी से मिलवाने दिल्ली लेकर जाएंगे।

हालांकि अभी कांग्रेस को किस बूथ पर कितने मत मिले इसका आंकलन करना मु​श्किल होगा। यह तो चार जून के बाद ही पता लग पाएगा कि किस पार्टी को किस बूथ पर कितने वोट मिले हैं। लेकिन किस बूथ पर कितने प्रतिशत मतदान हुआ है यह आंकडे चुनाव आयोग द्वारा जारी कर दिए गए है। आपको बता दें कि बुरहानुपर और नेपानगर विधानसभा क्षेत्रों के 652 बूथों पर मतदान हुआ था।

ताजा खबर: वोट डालते समय क्या पर्दानशीन महिलाओं के लिए भारत में हैं अलग नियम, जानिए इस खबर के माध्यम से पूरी जानकारी

आंकडों के मुताबिक 652 बूथों पर वोट डाले गए थे। जिनमें से 29 बूथ ऐसे जिन पर 85 प्रतिशत से अ​धिक मतदान हुआ है। जिनमें बुरहानपुर विधानसभा के 12 बूथ एवं नेपानगर के 17 बूथ ऐसे रहे ​जिन पर मतदाताओं ने जमकर वोट डाले। बूथों पर हुए जमकर मतदान को भाजपा कार्यकर्ता खुद की मेहनत होन की बात कर रहे हैं। वहीं भाजपा से प्रत्याशी ज्ञानेश्वर पाटिल ने कहा कि वह अपना वायदा पूरा करेंगे।

ताजा खबर: दिल्ली एम्स के डायरेक्टर मरीज बनकर अस्पताल पहुंचे, आगे जो हुआ हैरान कर देगा