WhatsApp भारत में बैन हो जाएगा?, सरकार के नए नियमों ने बढ़ाई कंपनी की मुश्किलें

WhatsAppनई-दिल्ली. WhatsApp फेसबुक, ट्विटर और लिंक्डइन जैसे सोशल मीडिया प्लेटफार्मों के खिलाफ सख्त कदम उठाते हुए, केंद्र सरकार ने आज नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। देश का सबसे लोकप्रिय मैसेजिंग Application, WhatsApp भी नए सरकारी नियमों से अछूता नहीं है।

हालांकि नए नियम को लागू होने में कुछ समय लगेगा, लेकिन सरकार ने कंपनियों से सोशल मीडिया पर गलत कंटेंट पोस्ट खोजने के लिए उनकी उत्पत्ति के बारे में जानकारी देने को कहा है।

WhatsApp को मानने होंगे ये नियम

इसका अर्थ है कि WhatsApp, सिग्नल, टेलीग्राम जैसे एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन का उपयोग करने वाले प्लेटफार्मों को नए सरकारी नियम का पालन करने के लिए अपनी नीति को तोड़ना होगा। WhatsApp का कहना है कि यह ऐसा नहीं कर सकता,

Car: 2.15 लाख रुपये में खरीदें 4 लाख रुपये से ज्यादा कीमत वाली ये CAR

क्योंकि एंड टू एंड एन्क्रिप्शन एन्क्रिप्शन से यह पता लगाना असंभव हो जाता है, कि संदेश किसने और कहां से किया है।

व्हाट्सऐप ने नियम मानने से इनकार किया तो….

सरकार द्वारा इस तरह की मांग पहले भी कई बार की जा चुकी है, लेकिन इस बार यह कोई गाइडलाइन नहीं बल्कि एक मांग है। यदि व्हाट्सएप सहित अन्य प्लेटफॉर्म, सरकार के नए नियमों को स्वीकार करने से इनकार करते हैं, तो यह सवाल उठता है,

कि क्या भारत में इस तरह के Application को प्रतिबंधित किया जाएगा? नए नियमों के संबंध में, WhatsApp ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि यह पता नहीं लगा सकता है कि संदेश किसने और कहां से भेजा है।

व्हाट्सएप के सामने दो ही रास्ते

सरकार के नियमों का पालन करते हुए या दिशा-निर्देशों का पालन करने से इनकार करने से Whatsapp के सामने अब दो रास्ते हैं। अगर अलग Whatsapp मना करता है, तो क्या भारत में इसे प्रतिबंधित करना होगा? यह एक बड़ा सवाल है।

Aadhaar Card: कब और कहां-कहां हुआ है इस्तेमाल, म‍िनटों में घर बैठे ऐसे लगाएं पता

आपको बता दें कि Whatsapp की मूल कंपनी फेसबुक की प्रतिक्रिया भी सामने आई है। कंपनी ने कहा कि जो नियम बनाए गए हैं उनका सावधानीपूर्वक अध्ययन किया जाएगा।

Previous articleGold-Silver Rate: Gold खरीदने का बढ़िया मौका जबकि Silver की कीमत में लगी आग
Next articleबड़ी खबर: अधिकतर सरकारी Companies बेची जाएंगी, एक के बाद एक, लगेगा सबका नंबर