सोशल मीडिया पर प्यार परवान चढ़ा तो 80 साल के बुजुर्ग ने 34 वर्ष की युवती के गले में डाल दी वरमाला, बराती बने वकील और वादकारी

कहते हैं कि प्यार की कोई उम्र नहीं होती। यहीं कहावत फिट बैठती है मध्य प्रदेश के आगर मालवा जनपद निवासी बालूराम बागरी पर। दरअसल बालूराम बागरी की उम्र 80 वर्ष है। इस उम्र में उनको प्यार हुआ तो उसको अंजाम तक पहुंचाने की ठान ली। बुजुर्ग ने अपने प्यार को पाने के लिए समाज की बंदिशों को तोड दिया और कोर्ट में शादी रचा ली। कोर्ट की अनुमति मिली तो वहीं हनुमान मंदिर पर अपनी प्रेमिका को वरमाला पहना दी। अनोखी शादी की क्षेत्र में खूब चर्चा हो रही है।

दरअसल मध्य प्रदेश के आगर मालवा जनपद के गांव मगरिया निवासी 80 साल के बालूराम बागरी इतनी उम्र के बाद भी सोशल मीडिया पर ए​क्टिव रहते हैं। दिन भर अपना कुछ न कुछ अपडेट करते रहते हैं। सोशल मीडिया पर ए​​क्टिव रहने की वजह से ही उनके अच्छी खासी संख्या में फालाेवर्स हैं। उन्हीं में एक थीं महाराष्ट्र के अमरावती की रहने वाली शीला इंगले।

शीला इंगले और बालूराम बागरी की मुलाकात सोशल मीडिया पर हुई। जान पहचान बढ़ी तो एक दूसरे को अना नंबर दे दिया। उम्र के बंधन को तोडते हुए दोनों ने साथ में जीने मरने की कसमें खा ली। अपने प्यार को पाने के लिए शीला इंगले महाराष्ट्र के अमरावती से मध्य प्रदेश के आगर मालवा आ पहुंची। जहां उन्होंने कोर्ट में शादी करने का फैसला कर लिया।

ताजा खबर: वाहन चलाने वाले One Vehicle, One Fastag नियम पता कर लें, हाईवे से जाने पर अब क्या होगा

अपनी 34 वर्ष की प्रेमिका को लेकर 80 वर्ष के बुजुर्ग बालूराम सुसनेर न्यायालय में पहुंच गए। जहां उन्होंने एक वकील के माध्यम से कोर्ट में प्रार्थना पत्र दिया। प्रार्थना पत्र पर अनुमति मिलने के बाद दंपति का उत्साह चरम पर था। उन्होंने कोर्ट परिसर में ही मौजूद हनुमान मंदिर पर एक दूसरे के गले में जयमाला डाल दी। इस अनोखी शादी को देखने के लिए लोगों की भीड़ लग गई। हालांकि शादी में उनके परिवार से कम ही संख्या में लोग पहुंचे। शादी की क्षेत्र में खूब चर्चा हो रही है।

ताजा खबर: कोई बांट रहा हो साड़ी या शराब तो यहां दर्ज कराएं शिकायत, मिनटों में होगी कार्रवाई, अब तक इतने लोग कर चुके हैं शिकायत